Kaal Bhairava Dhyan Sanstan

About Kaal Bhairava Dhyan Sanstan

Kaal Bhairava Dhyan Sansthan is a registered Trust under the supervision of Sadgurudev Shri Taramani Bhai Ji(President Dr Money Dhasmana) belong to a village from Uttarakhand , India .

After many years’ efforts in field of Sadhna after encountering with Truth, Gurudev has initiated to arrange a place where every good sadhak can come without any hesitation and perform sadhna , yagya, can serve Cow,take care of old age people as people from society don’t have place to live will be served here, sadhak can be in this place and keep silence, do meditation under the divine aura of Gurudev and proper guidance bit by bit will lead towards the path of Enlightenment .This place is called Ashram , Kaal Bhairava Dhyan Sansthan -Ashram. This is registered trust working very aggressively towards the society towards giving them mental balance and motivating them towards making meditation , a part of there daily life . We are working on spreading Lord Bhairava Path ,a way towards spirituality by following ethical values guided by Sadgurudev Shri Taramani Bhai Ji. We are in the process of constructing an Ashram consisting of education related to foreign language, sanskrit, vedas, software, hardware, digital marketing, gaushala ,meditation hall, yagya shala, rest house for visiters, medical clinic with advanced facilities,old age home etc all will be free for all true people, true sadhaks. We sharing our donation link here and invite you to contribute maximum to construct Lord Bhairava Mandir and Ashram .

Sadgurudev Shri Taramani Bhai Ji (Dr. Money Dhasmana)

17 Years Experience Astrologer,Paranormal Expert, Meditation Guide,Soul Communicator,Tantra Expert

सदगुरुदेव श्री तारामणि भाई जी का सांसारिक नाम “डा. मणि धस्माना जी” है ,देव भूमि ,पौड़ी गढ़वाल, ऊत्तराखण्ड के एक गांव के रहने वाले हैं, जहां कई पीढ़ियों से इनके पूर्वज भगवान भैरव और माँ काली के सेवक रहें।उनके पिता एक सरकारी विभाग में DPO पदासीन थे साथ ही तंत्र और साधना की गूढ़ जानकारी रखते थे।इनके स्व. दादा जी स्वयं में सिद्ध और ऊत्तराखण्ड के बहुत विख्यात तंत्र ज्ञाता थे व भैरव व मां काली की विशेष कृपा थी।उन्होंने अपने पूर्वजों की पुरानी तंत्र और ज्योतिषीय किताबों का अध्ययन करना शुरू किया । धीरे धीरे ज्योतिष संबंधित सभी ग्रंथो का उन्हीने सूक्ष्म से सूक्ष्म अध्यन किया जिसमें भृगु संहिता, सूर्य सिद्धान्त, लघु पाराशरी, जातक पारिजात, ब्रह्जातकम, नाड़ी ज्योतिष ,केरल जोतिष, ज्योतिष रत्नाकर, भवन भास्कर, मुहूर्त चिंतामणि, अंक शास्त्र, रमल, प्रश्न कुंडली ,होरा , समुद्र शास्त्र, फलदीपिका इत्यादि का अध्यन किया। गायत्री से काली तक की साधनाओं करने के साथ ही MBA की डिग्री,O लेवल, B लेवल कंप्यूटर डिप्लोमा, वेब डिजाइनिंग, प्रोग्रामिंग करने के साथ साथ पहाड़ो ,जंगलों ,आश्रमों ,साधुओं, शमशान, कब्रिस्तान,भैरव गढ़ी, भैरव टेकड़ी,नदी किनारे ,बद्रीनाथ,केदारनाथ,गंगोत्री-गौमुख,कामाख्या-गुवाहाटी, तारापीठ-रामपुरहाट,बंगाल, उज्जैन काल भैरव नदी तट,देवास, शमशान,हरिद्वार, ऋषिकेश,धर्मशाला- मैक्लॉड गंज,नैनीताल,माउंट आबू पर साधनाये पूर्ण करी। साधनाओं में शमशान से संबंधित षट कर्म( शांति , मारण, मोहन ,उच्चाटन, विद्वेषण, स्तंभन ) बेताल साधना वाराह , पीर, अप्सरा , हनुमान , विष्णु, बगलामुखी, काली, तारा , छिन्नमस्ता , धूमावती, कमला इत्यादि सभी महाविद्याओं का साक्षात्कार , विशेषतः भगवान भैरव की सभी रूपों के साधनाओं को पूर्ण करा।

Dr Taramani Bhai DP

Sadgurudev Shri Taramani Bhai Ji
(President Of Kaal Bhairava Dhyan Sansthan)

यक्षिणी साधनाओ में सफलता हेतु संपर्क करे

Follow on Social